स्कूल के निकट पुराना कुआं और तालाब दे रहे हैं बड़ी दुर्घटना को दावत

0
70

बल्दीराय/सुल्तानपुर (ब्यूरो) तालाब के किनारे बाउंड्री विहीन जू. हाईस्कूल और इसी से सटे प्रा. पाठशाला की दीवार से महज १० हाथ की दूरी पर मौत को दावत दे रहा है पुराना कुंआ, योगी सरकार के सपनों वाले गांवों में शिक्षा व्यवस्था की बदहाली को आईना दिखा रहा है ।

विकास खंड के धोबी भार ग्राम पंचायत के करमोली गांव मे सिथित इन दोनों विदयालयों पर कुल मिला कर छात्र संख्या ९२ है । जू. हाईस्कूल में प्रधानाध्यापक सत्यदेव को लेकर कुल तीन और प्रा. पाठशाला कुल दो अध्यापक शिक्षण कार्य की जिम्मेदारी निभा रहे हैं । विद्यालय की व्यवस्था पर नजर डालें तो जू. हाई स्कूल का शौचालय पूरी तरह निष्प्रयोज्य है बच्चे खुले में शौच के लिये मजबूर हैं । सफाई कर्मी कभी आता नही जिसके चलते विद्यालय के कमरों समेत रसोई तक गंदगी का अम्बार लगा है ।

विद्यालय में बाऊंड्रीवाल नही है जबकि विदयालय भवन ताला से महज १५ फिट की दूरी पर है जंहा बच्चों के लिये हमेशा जान का जोखिम बना रहता है । यही हाल कमोवेश प्रा. पाठशाला का भी है । विदयालय के से सटा बिना मुंडेरवाला पुराना कुंआ हर पल किसी दुर्घटना का संकेत दे रहा है बावजूद इसके न तो विभाग और नाही ग्राम पंचायत समस्याओं के निराकरण को लेकर संजीदा नजर आ रहा है ।

इस बाबत जब प्रधानाध्यापक सत्यदेव पाण्डेय से जानकारी चाही गई तो उन्होने बताया कि हैण्ड पम्प तथा शौचालय मरम्त को लेकर विभाग के साथ खंड विकास अधिकारी को कई बार लिखित जानकारी दी गई, आगे मै क्या कंहू ? सफाई कर्मचारी आता नही मै उससे पंगा लूं कि नौकरी करूं । एक तो जंगल में स्कूल बगल में तालाब और दूसरी तरफ विदयालय के बीच यह मौत का कुंआ, भगवान भरोसे है हम लोगों के साथ साथ इन छात्र छात्रताओं की जिंदगी ।जिन पर किसी भी ज़िम्मेदार की नजर नही पड़ती है ।

रिपोर्ट – धर्मेन्द्र सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here