भारतीय रेलवे में अपनी प्रणाली से सभी मानवरहित लेवल क्रासिंग को खत्म करने वाला पहला जोन बना पश्चिमी-मध्य रेलवे

0
351

पश्चिमी-मध्य रेलवे जोन (मुख्यालय: जबलपुर), भारतीय रेलवे में अपनी प्रणाली से सभी मानवरहित लेवल क्रासिंग को 31 अगस्त, 2015 तक खत्म करने वाला पहला जोन बन गया है। 1 अप्रैल, 2014 तक पश्चिमी-मध्य रेलवे के अंतर्गत आने वाले कुल 118 मानवरहित लेवल क्रासिंग में से 80 को वित्तीय वर्ष 2014-15 के दौरान खत्म कर दिया गया था। जबकि शेष 38 को चालू वित्तीय वर्ष में 31 अगस्त, 2015 तक खत्म कर दिया गया। ऐसा 33 लिमिटेड हाइट सब वेज़ (एलएच) का निर्माण कर और 30 लेवल क्रासिंग पर व्यक्तियों को तैनात करने के बाद संभव हो पाया है। सुरक्षा के लिहाज़ से उठाया गया यह बड़ा कदम है।

यह पश्चिमी-मध्य रेलवे जोन की बड़ी सफलता है। पश्चिमी-मध्य रेलवे खुद को और बेहतर बनाने के लिए ज्यादा से ज्यादा आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर रहा है। इसके अलावा सुरक्षा, सफाई और समय की पाबंदी समेत सभी मोर्चों पर अपना प्रदर्शन सुधारने के लिए पश्चिमी-मध्य रेलवे ने विशेष अभियान शुरू किया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

10 + eight =