जब डीएम खुद की कार के बजाय बाइक से पहुंचे जिला अस्पताल, और मिले सीएमएस गायब

0
149

भदोही (ब्यूरो)- उत्तर प्रदेश में सरकारी विभागों और अफसरों को रवैया नहीँ बदल रहा । ड्यूटी से गायब मिलना आम बात है । भदोही जिले के नए जिलाधिकारी बिसाख जी गुरुवार को जिला अस्पताल महाराजा चेतसिंह की जमींनी हकीकत का पड़ताल करने खुद बाइक से सुबह 8ः00 बजे जा धमके।

अचानक जिला अस्पताल में डीएम की उपस्थिति से हड़कंप मच गया। अस्पताल के काउंटर पर पहुंच कर  उन्होंने एक रुपये की पर्ची कटाई इसके बाद निरीक्षण में जुट गए। इस दौरान मुख्य चिकित्ससा अधीक्षक, चिकित्सकों के साथ दूसरे स्टाप को मिलाकर कुल 17 लोग गैर हाजिर पाए गए। उन्होंने सभी का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया है।

जिला अस्पताल के एक-एक कैंपस का उन्होंने गहनता और बारीकी से निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने सीएमएस कार्यालय में सभी अभिलेखों और उपस्थिति रजिस्टर का अवलोकन किया। डीएम के निरीक्षण में सीएमएस डीबी प्रसाद खुद गैरहाजिर मिले। इकसे अलावा अस्पताल में डाक्टर और अन्य स्टाप भी अपनी ड्यूटी से गायब मिले। जिस पर जिलाधिकारी ने सभी का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया।

इसके अलावा गायब मिले कर्मचारियों और डाक्टरों के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार किया और उन्हें जमकर लताड़ लगाई। जिला अस्पताल में खड़ी गाडियों को कैंपस से बाहर करने का आदेश दिया। उन्होंने कहा की बाहरी गाड़ी किसी भी कीमत पर जिला अस्पताल परिसर में नहीं दिखेगी। मरीजों को बाहर से दवा नहीं लिखने का आदेश दिया। बोले अस्पताल काउंटर से मरीजों को पर्याप्त दवाएं मिलनी चाहिए। इसके अलावा परिसर में गंदगी देख कर उनका पारा चढ़ गया| और जिम्मेदार एवं जबाबदेह अफसरों को कड़ी लताड़ लगाई।

बोले दूसरी जांच में गंदगी और लापरवाही नहीं दिखनी चाहिए। सीएमएस डीबी प्रसाद को सांसद वीरेंद्र सिंह ने अभी कल ही एक मीटिंग में न पहुंचने पर लताड़ लगाई थी लेकिन आज दूसरे दिन भी वह डीएम के निरीक्षण में गायब मिले थे ।

रिपोर्ट-रामकृष्ण पाण्ड़ेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here