जब गैटलिन की तेजी ने रोक दी बोल्ट की साँसें

0
216

Usain-Bolt

विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में अपनी बादशाहत कायम रखते हुए रविवार को 100 मीटर फर्राटा दौड़ में 9.79 सेकेंड का समय निकालकर खिताब हासिल करने वाले दुनिया के सबसे तेज धावक जमैका के यूसेन बोल्ट ने कहा कि उनका लक्ष्य संन्यास लेने तक नंबर वन बने रहना है।
ओलंपिक और विश्व रिकॉर्डधारी बोल्ट ने जीत हासिल करने के बाद अपने जाने माने अंदाज ‘लाइटिंग बोल्ट’ में पोज देने के बाद कहा कि मैंने इस जीत के लिए खुद को लगातार प्रेरित किया। मैंने कड़ी मेहनत की थी और रेस में हिस्सा लेते समय मैं शांत और सहज था। खिताब बरकरार रख पाने में मैं बेहद खुश हूं और मेरा लक्ष्य है कि मैं संन्यास लेने तक नंबर वन बना रहूं।
बोल्ट ने कहा कि गैटलिन लगातार अच्छा समय निकाल रहे थे और मुझे उनसे कड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद थी।
लोगों को भी मुझसे काफी उम्मीदें थीं लेकिन फिर से पुरानी लय हासिल करने के लिये यह जीत मेरे लिये बेहद अहम थी। मैं खुश हूं कि मैं गैटलिन की कड़ी चुनौती से पार पाते हुये खिताब जीतने में सफल रहा।
मामूली अंतर से स्वर्ण पदक से चूकने वाले गैटलिन ने कहा, ”मेरा दिन अच्छा नहीं रहा। मेरी शुरुआत अच्छी थी, लेकिन बोल्ट ने अंत में तेजी दिखाई। आखिरी पांच मीटर में में कुछ लडख़ड़ा गया और इसका नुकसान मुझे जीत से वंचित होने से चुकाना पड़ा लेकिन मैं 200 मीटर में वापसी करने की कोशिश करूंगा।”

अखंड भारत परिवार बेहतर भारत निर्माण के लिए प्रयासरत है, आप भी इस प्रयास में फेसबुक के माध्यम से अखंड भारत के साथ जुड़ें, आप अखंड भारत को ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

Photo – IBN7

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

2 + 10 =