लाश जलती छोड़ जब भागे परिजन

0
110

बलिया (ब्यूरो)- कभी-कभी ऐसे मामले सामने आते है कि लोग सोचने पर मजबूर हो जाते है। गुरुवार की रात गड़वार थाना क्षेत्र के बुढऊ गांव में जो हुआ, वह देख सभी लोग दंग रह गये। संदिग्ध परिस्थितियों में जलकर मरी विवाहिता प्रमिला सिंह (22) का अंतिम संस्कार कर रहे ससुराल के लोग पुलिस को देखते ही भाग निकले। पुलिस के हाथ मृतका की अधजली खोपड़ी ही लग सकी।

आपको बता दें कि, सूचना पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक राम प्रताप सिंह ने घटना की जानकारी ली और मातहतों को दिशा-निर्देश दिए। एसपी ने मायके वालों से मामले में जल्द कार्रवाई के आश्वासन दिए। बुढ़ऊ गांव निवासी प्रमिला सिंह की जलने से मौत हो गई। शव का अंतिम संस्कार करने के लिए ससुराली शवदाह स्थल पर चले गये।

उधर, मामले की जानकारी होने के बाद मृतका के पिता रामेश्वर सिंह निवासी रेखहां ने 100 नंबर पर पुलिस को इसकी सूचना देने के साथ ही खुद भी मौके पर पहुंच गए।
पुलिस की गाड़ी देख मृतका के ससुराल वाले भाग खड़े हुए। रामेश्वर सिंह ने आरोप लगाया कि तीन वर्ष पूर्व प्रमिला की शादी दीपक पुत्र मैनेजर सिंह के साथ हुई थी। इसमें एक वर्ष बाद से ही सास, ससुर व ननद द्वारा तरह-तरह के आरोप लगा कर उसे प्रताड़ित किया जाने लगा। पति दीपक बाहर नौकरी करता है।

इस बीच गुरुवार को ससुराल वाले उसे जला कर मार दिए। सीओ केसी सिंह व एसओ अतुल राय ने मृतका के कमरे में दीवार पर जलने व धुएं आदि के निशान की जांच की। मृतका के ससुर मैनेजर सिंह ने बताया कि प्रमिला की मौत शार्ट-सर्किट से हुई है। सीओ केसी सिंह ने बताया कि दहेज हत्या की बात सामने आई है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दिया है।

रिपोर्ट-संतोष कुमार शर्मा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY