लखीसराय- एसबीआई के एटीएम से कहां गायब हो गए 30 लाख रुपये

0
171

IMG-20170216-WA0013

लखीसराय- बड़हिया क्षेत्र के इंदुपुर गांव में टेलीफोन एक्सचेंज के पास रविवार की रात स्टेट बैंक का एटीएम तोड़कर लूट के प्रयास के मामले में दो दिन बाद मंगलवार को सनसनीखेज खुलासा सामने आया। लूट के प्रयास को सफल बताते हुए बैंक प्रबंधन ने 30 लाख चार हजार की राशि लूटे जाने की बात कही है। यह बात दीगर है कि घटना के 36 घंटे बाद भी बैंक प्रबंधन ने प्राथमिकी दर्ज नहीं करायी। रविवार की रात चोरों ने गैस कटर से एटीएम मशीन काटकर पैसे लूटने का प्रयास किया था।

दो दिन तक असफल प्रयास की चर्चा रही। लेकिन घटना को पुलिस और मीडिया से छिपाने की कोशिश रही। इतना ही नहीं प्राथमिकी दर्ज कराने में जारी अनावश्यक बिलंब से आम लोग इस पूरी घटना पर संदेह कर रहे हैं। स्थानीय लोगों ने इस पूरी घटना के पीछे किसी षडयंत्र की आशंका जताते हुए सीआईडी जांच की मांग की है।

क्या कहते हैं बैंक प्रबंधक-
पूरे मामले पर लखीसराय मुख्य शाखा के प्रबंधक सुधीर कुमार ने बताया कि एटीएम के लिए वह सिर्फ राशि जारी करते हैं। एटीएम में राशि डालने से लेकर उसकी देखरेख का पूरा जिम्मा एनसीआर मुम्बई को दिया गया है। रविवार को हुई इस घटना में 30 लाख 04 हजार की राशि की लूट हुई है।

बैंक प्रबंधक का मानना है कि एटीएम को गुप्त कोड से खोले जाने की आशंका है। प्रााथमिकी दर्ज कराने में हो रही देरी के सवाल पर उन्होने कहा कि हेड ऑफिस को सूचना दी गयी है। हेड ऑफिस से निर्देश मिलने के बाद प्राथमिकी दर्ज करने की कारवाई की जाएगी।

पूरी घटना पर यूं ही नहीं उठ रहे सवाल-
-24 घंटे सर्विस वाले एटीएम में गार्ड की तैनाती नहीं

-एटीएम का सीसीटीवी कैमरा कई दिनों से खराब

-घटना के बाद अबतक एफआईआर नहीं दर्ज कराई गई

-लूट की घटना हुई तो दो दिन तक क्यों छिपाई गई बात

-एटीएम के अंदर का लॉक खुला नहीं तो कैसे हुई लूट

-प्रबंधक का कहना-गुप्त कोड से निकाली गई राशि

रिपोर्ट- रजनीश कुमार
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY