सी.एच.सी. तुर्कहा जहाँ बच्चे निभाते हैं डॉक्टर का किरदार

कुशीनगर(ब्यूरो)- उप्र की योगी सरकार स्वास्थ्य विभाग को सुदृढ़ व मजबूत करने के लिए लगातार प्रयास कर रही है तो आम जन को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने हेतु गंभीर भी है लेकिन खड्डा के तुर्कहा सीएचसी पर सरकार के अपने ही डाक्टर व कर्मचारी नाबालिग लड़कों से मरीजों का इलाज कराकर उनके जान के दुश्मन बने हैं ।

आरोप है कि दिन के उजाले में सीएचसी तुर्कहा में मरीजों का कटे पर पट्टी व इंजेक्शन लगाने का काम नाबालिग लड़के कर रहे हैं । इतना ही नहीं रात में इलाज के लिए सीएचसी पहुंचे मरीजों का इलाज व दवा की जिम्मेदारी इन्हीं नाबालिग तथाकथित डाक्टरों की है ।  चर्चा है कि अस्पताल प्रशासन के मिली भगत से फार्मासिस्ट ने तीन नाबालिग लड़कों को रखकर मरीजों का उपचार कराते हैं । उपचार के बाद ये तथाकथित डाक्टर मजबूर मरीजों से धनउगाही करते हैं । थाना क्षेत्र के सिसवा गोपाल के रहने वाले छोटेलाल सहाय अपनी पत्नी सीमा सहाय का इलाज कराने शनिवार को सीएचसी पहुंचे तो वहां मौजूद एक नाबालिग लड़का उनके पत्नी को इंजेक्शन लगाकर दवा दिया । इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है ।

आरोप यह भी है कि वहां मौजूद एक व्यक्ति ने उनसे सुविधा शुल्क के नाम पर 100 रूपये भी लिया । इस संबंध में जब प्रभारी चिकित्साधिकारी डा संतोष गुप्ता से बात करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने बताया कि पहली बात तो हमारा ट्रान्सफर यहाँ से कहीं और हो गया है और रही बात इस शिकायत की तो मामला उनके संज्ञान में नही है। अगर मामला संज्ञान में आता है तो जांच कर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी ।

रिपोर्ट- राहुल पाण्डेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here