चघईपुर: ख़स्ताहाल स्वास्थ्य व्यवस्था का जिम्मेदार कौन ?

0
164

प्रतापगढ़(ब्यूरो)- जनपद प्रतापगढ़ के अधीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मानधाता के अंतर्गत संचालित एनम सेंटर सराय राजा खरवई चघईपुर में तैनात पूर्व ऐनम निर्मला का तबादला कहीं अन्यत्र कर दिया गया| अब इन गांव की कमान उर्मिला राय को 2013 में सौंपी गई| तब से आज तक सरकारी अभिलेख निर्मला द्वारा उर्मिला राय को नहीं सौंपी गई| जहां एक तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री आदित्यनाथ योगी का पुरजोर प्रयास है कि स्वच्छता कार्यक्रम गांव से लेकर शहर तक निष्पक्षता से संपादित हो| वहीं इन ग्राम सभाओं के संयुक्त खाता का संचालन ग्राम प्रधान तथा ऐनम के द्वारा किया जाता है|

लोग बताते हैं कि इन तीनों गांव में तैनात ऐनम कई बार सरकारी अभिलेख ना मिलने का जिम्मा अपने अधीनस्थ अधिकारियों को बताया परंतु सब ढाक के तीन पात हैं| आज सराय राजा गांव की यह है हकीकत है कि केंद्र द्वारा स्वच्छता खाते में डाली गई धनराशि का उपयोग न होने से गांव की नाली तथा अन्य गंदगी से ग्रामीणों का जीना दूभर हो गया है| इसका कारण यह है कि पूर्व ऐनम के द्वारा संबंधित खाते की पासबुक ऐनम से गायब हो गई है| इसी वजह से इस चघई पुर गांव में जो धन आया है सराय राजा गांव के प्रधान तथा ऐनम ने बताया कि स्वच्छता कार्यक्रम संबंधित सारा पैसा खाते में पड़ा है | वहीं 3 गांव के मध्य ऐनम सेंटर खरवई में है जिसकी हालत दयनीय है| समाचार के साथ ऐनम सेंटर की दो फोटो भी भेजी जा रही है| कैसे होगा देश का विकास तथा गांव का विकास? जब अधीनस्थ ही अपनी कोई कार्यवाही करने की हिम्मत नहीं कर रहे हैं| मोदी और योगी सरकार में आम जनता को क्या फायदा मिलेगा यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा |

रिपोर्ट- अवनीश कुमार मिश्रा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here