सफाई में काशी नंबर वन तो कैंट क्यों नहीं?

0
86

वाराणसी(ब्यूरो)- प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान को मुंह चिढ़ाता हुआ वार्ड नंबर 15 कैंट के परेडकोठी का इलाका है, जिसकी वर्तमान पार्षद पूनम है। 4 वर्षों में यहां कई समस्याएं हैं । लेकिन सबसे बड़ी समस्या यहां जल निकासी की है। बरसात में पूरा इलाका जलजमाव से भर जाता है।

भीषण गर्मी में भी आजकल कई माह से सीवर का गंदा पानी गलियों में लहरा रहा है। इलाके के लगभग सभी मेनहोल जाम है। यहां दर्जनों खान पान की दुकानों का मलवा सीधे सीवर में चला जाता है जो बड़ी समस्या को जन्म देते है। स्थानीय दुकानदारों की माने तो इलाके में मैनहोल की सफाई भी लंबे अरसे से नहीं हुई ।

कैंट स्टेशन को जहां स्वछता अभियान में साफ-सुथरा बनाया जा रहा है, वही सौ मीटर दूर इस इलाके में भीषण गंदगी कोढ़ में खाज की स्थिति उत्पन्न कर रही है। बीते वर्षो में निवर्तमान जिलाधिकारी ने स्थानीय नेहरू पार्क के सुंदरीकरण का आदेश दिया ।

रातो रात वहां से अवैध कब्जा हटाकर सीमेंट की ईटे बिछा दी गई । कई ट्रक कूड़ा पार्क से निकाल कर सफाई हुई। लेकिन डीएम के ट्रांसफर होते ही फिर सब कुछ पुराने ढर्रे पर आ गया । यहां के नेहरू पार्क को यदि सुंदरीकरण कर दिया जाए तो आने वाले पर्यटक भी सुखद अनुभूति महसूस करेंगे ।

पुलिसवालों की कृपा से अब पार्क के आसपास दर्जनों ठेला खोमचा वाले अवैध कब्जा कर चुके हैं। पूरे इलाके में गंदगी का साम्राज्य इस कदर है कि नाक पर रूमाल रखना लोगों की मजबूरी बन चुकी है। स्वच्छ भारत अभियान के तहत जहां एक तरफ मोदी जी भारत को स्वच्छ एवं निर्मल बनाने की मुहिम चला रहे है वहीँ सफाई में नंबर वन बन चुके काशी का यह इलाका अलग नजारा दिखा रहा है।

स्थानीय लोगों की माने तो इलाकाई नेता अपने क्षेत्र में कभी भी जनता के हाल-चाल और सुख, सुविधाओं से रूबरू होने के लिए जनता से मिलना जुलना भी ठीक नहीं समझते। आज परेडकोठी ,रोडवेज , कैन्ट स्टेशन के बीच की जनता भारी दुश्वारियां झेल रही है। क्षेत्र में खुलेआम बह रहे सीवर के गंदे पानी से संक्रामक रोग का खतरा बढ़ गया है।

लोगों का कहना है कि समस्या निदान के लिए दर्जनों बार धरना प्रदर्शन भी हुआ लेकिन अधिकारी कुम्भकर्णी निद्रा में लीन है। अब तक जल निकासी का समाधान नहीं किया गया। जलजमाव के कारण क्षेत्र में भीषण बदबू गंदगी का अंबार लगा हुआ है। स्थानीय लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं।

रिपोर्ट-सर्वेश कुमार यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here