लोक बंधु’ के बिना ‘लोकनायक’ की सम्पूर्ण क्रांति रहती अधूरी: नारद

0
72

बलिया (ब्यूरो)- समाजवादी पुरोधा लोकबन्धु राजनारायण जी के स्मृति में 101वीं जयन्ती पर आयोजित गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए पूर्व मंत्री नारद राय ने कहा कि लोक बन्धु राजनारायण जी के बिना लोकनायक जय प्रकाश जी का सम्पूर्ण क्रांति अधूरा था क्योंकि राजनारायण जी ने यदि श्रीमती इन्दिरा गांधी को वोट से लेकर कोर्ट तक नहीं हराते तब तक सम्पूर्ण क्रांति का सपना साकार नहीं होता।

श्री राय ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ;आरएसएसद्ध के लोगों ने साजिश करके एक प्रधानमंत्री को हराने वाले लोकबन्धु को प्रधानमंत्री नहीं बनने दिया था। उन्होंने समाजवादी मुखिया मा0 श्री मुलायम सिंह यादव को धन्यवाद देते हुए कहा कि राजनारायण जी को सम्मान देने के लिए 300 वेड का अस्पताल लखनऊ में और वेनिपावाग वाराणसी में आदमकद प्रतिमा लगाकर राजनारायण स्मारक पार्क बनवाकर स्मृतियों को जिन्दा रखा है।

पूर्व मंत्री श्री नारद राय ने कहा कि लोकबन्धु राजनारायण जी अपने शासन काल में गरीब दुखियों के लिए देशभर में चिकित्सा के क्षेत्र में बहुत काम किया इस मौके पर जिला अस्पताल सड़ रही मुफ्त डायलिसिस की मशीने और ट्रामा सेन्टर को शुरू कराने की लड़ाई बहुत जल्द जिलाकमेटी से सहमती लेने के पश्चात् शुरू की जायेगी। इस अवसर पर डॉ0 जनार्दन राय ने अध्यक्षता करते हुए कहा कि राजनारायण जी जैसे लोग विरले पैदा होते है।

पूर्व नगर अध्यक्ष राजकुमार पाण्डेय ने कहा कि राजनारायण जी सही मायने में समाज वाद के पुरोधा थे। इस अवसर पर डॉ0 धनन्जय राय, अजय पाण्डेय एडवोकेट विनय तिवारी, शिवानन्द ओझा, विभवशंकर ठाकुर, राहुल राय, अनिल पाण्डेय, श्रीकान्त उपाध्याय, उदयनारायण राय, अक्षयवर ओझा, वंशीलाल प्रजापती, शोभा ठाकुर, हरेराम सिंह, श्यामविहारी पाण्डेय, कामरेड राजनाथ यादव, दयाशंकर यादव ने विचार व्यक्त करते हुए श्र(ासुमन अर्पित किया। कार्यक्रम का अध्यक्षता डॉ0 जनार्दन राय और संचालन परमात्मानन्द पाण्डेय ने किया।

रिपोर्ट- अजित ओझा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here