जंगली सुवर का शिकार करने वाले 2 आरोपी पकड़े, वन विभाग की कार्यवाही

0
182

अंबागढ़ चौकी(छत्तीसगढ़ ब्यूरो) – स्थानीय वन विभाग अभी भारी सुर्खियों में है , महीनों पहले खाल को बेचने वालों के ऊपर जिस तरह से वन विभाग की टीम ने कार्यवाही की है इससे वन विभाग की सभी तरफ प्रशंसा हो रही है ।।
वन विभाग अंबागढ़ चौकी को 8 अप्रेल को लगभग दोपहर 12 बजे मुखबिर से सुचना मिली कि कुछ लोग जंगली सुवर का शिकार कर उसे ग्राम जाड़ेटोला लाये है, इस सुचना के आधार पर वन विभाग की टीम में रेंजर सन्दीप सिंह बीटगार्ड तोरण ठाकुर , प्रियंका ठाकुर एवं अन्य लोग उसी दिन दोपहर लगभग 2 बजे ग्राम जाड़ेटोला पहुँचे और बताये स्थान पर छापा मारा और उस जगह से जंगली सुवर का मॉस जिसे काट दिया गया था ,उसका वजन लगभग 8 किलो था उसे जप्त किया गया , उस जगह से एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया और दूसरा मुख्य आरोपी फरार था ।

जो 8 अप्रेल को वन विभाग की टीम के हत्थे चढ़ा उस आरोपी का नाम रामदास पिता विष्णुराम उम्र 28वर्ष निवासी जाड़ेटोला है तथा दूसरे आरोपी देवार सिंह पिता दशरथ सिंह उम्र 32 वर्ष जाति गोड़ निवासी जाड़ेटोला ने 13 अप्रेल को अंबागढ़ चौकी के न्यायालय में आत्मसमर्पण किया ।

बताया जा रहा है कि 8 अप्रेल को वन्य प्राणी जंगली सुअर के अवैध शिकार के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया इसका नाम देवार सिंह है इसने तथा इसके अन्य साथियों ने मिलकर 7 अप्रेल 2017 की मध्य रात्रि को पानाबरस परियोजना के देववाड़वी परिछेत्र के कक्ष क्रमांक 434 में अवैध शिकार किया है ।दोनों आरोपी लगभग डेढ़ साल से वासड़ी, मार्री , देववाड़वी, पाटन आदि जंगलो से बटेर ,खरगोश ,जंगली सुवर , सदिल ,और कई तरह की चीजों का शिकार करते थे , शिकार करने के लिये इन आरोपियों ने डेढ़ साल पहले चोरकट्टी के तहत ग्राम पटेली के एक व्यक्ति से भरमार बन्दूक खरीदी थी ,और उसी बन्दूक से ये लोग शिकार करते थे ।

रेंजर सन्दीप सिंह ने बताया कि 8 अप्रेल को मुखबिर से सुचना मिली कि कुछ लोग जंगली सुवर का शिकार करके लाये है ,उसी आधार पर यह कार्यवाही की गई है और आगे की जाँच जारी है ।

रिपोर्ट- हरदीप छाबड़ा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY