अचानक सप्लाई देने से दो संविदा कर्मचारी झुलसे, ग्रामीणों ने रोड़ किया जाम

0
113

हसनगंज/उन्नाव (ब्यूरो): कोतवाली हसनगंज क्षेत्र में शटडाउन लेने के बाद बिना सूचना के पावर हाउस से अचानक विधुत सप्लाई होने से दो संविदा कर्मचारी लाइन जोडते समय घायल हो गए। पावर हाउस पर तैनात नशेड़ियो के चलते जान लेने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। विभागीय आला अधिकारी जानकर अंजान बने हुए हैं। जिस पर नयी सराय के सैकड़ों गुस्साये ग्रामीणों ने मोहान अजगैन रोड़ जाम कर दिया। जिससे क ई घंटे तक आवागमन बाधित रहा।

मालूम हो कि नयी सराय फीडर की ग्यारह हजार विधुत लाइन की फाल्ट सही करने के लिए ओहरापुर कौडिया निवासी धर्मेंद्र पुत्र शिव कुमार व राजेश पुत्र चंदिका गदनखेडा भिटवा कोतवाली हसनगंज दोनों संविदा कर्मचारी शटडाउन लेकर लाइन जोड़ रहे थे। तभी बिना सूचना के अचानक पावर हाउस से विधुत सप्लाई शुरू कर दी। जिससे दोनों कर्मचारी गम्भीर रूप से झुलस गए। जिस पर ग्रामीण आक्रोशित होकर मोहान अजगैन रोड़ जाम कर दिया। जिससे पूरा आवागमन ठप हो गया। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि पावर हाउस पर आपरेटर न होने से प्राईवेट संविदा कर्मचारी नशे में धुत होकर ड्यूटी करने का नतीजा है कि आयेदिन आधा दर्जन प्राइवेट लाइनमैन सेट डाउन लेने के बावजूद भी बिना सूचना की जानकारी के लाइन चालू कर दी गई।

जिससे प्राइवेट लाइनमैन झुलसकर गम्भीर रूप से घायल होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है।दोनों घायलों को ग्रामीणों ने आनन-फानन प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां पर इलाज चल रहा है। गुस्साये ग्रामीणों ने रोड़ जाम कर पावर हाउस पर बैठे अधिकारी व कर्मचारियों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराने की मांग कर रहे हैं। तथा झुलसे संविदा कर्मचारियों को मुआवजा दिलाया जाय। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस इस्पेक्टर मय फ़ोर्स के आनन फानन मौके पर पहुंचकर गुस्साए ग्रामीणों को समझा बुझाकर पॉवर हॉउस के एस डी ओ जेई सहित ठेकेदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के अश्वाशन पर तीन घंटे के बाद जाम खुल सका। और ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ।

गुरुवार सुबह दस बजे सैकड़ों ग्रामीणों ने मोहान अजगैन मार्ग जाम कर दिया था। यह कोई पहली घटना नहीं है। अभी एक सप्ताह पहले धौरा फीडर की ग्यारह हजार लाइन सही करते समय बीबी पुर का संविदा कर्मचारी अचानक विधुत सप्लाई शुरू करने से घायल हो गया था जो अभी अस्पताल में जिंदगी मौत से जूझ रहा है। तथा इससे पहले रानी खेड़ा खालसा के मदन लाल व मुन्नी खेडा के गया प्रसाद अचानक सप्लाई देने अपनी जान गवा चुके हैं। फिर भी इस तरह की बार बार घटनाओं के होने के बाद भी विजली विभाग आखिर क्यों नही चेत रहा है। इस संबंध में कोतवाली निरीक्षक धर्मवीर सिंह ने बताया कि ग्रामीणों की तहरीर पर एस डी ओ, जेई, लाइनमैन आपरेटर सहित ठेकेदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जायेगी।

रिपोर्ट- राजेंद्र आजाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here