दबंगों ने माहिला का अपहरण कर सालों किया रेप, न्याय के लिए भटक रही वापस आई महिला


कन्नौज (ब्यूरो) कन्नौज में दबंगों ने महिला का अपहरण कर महीनों उसके साथ गैंगरेप किया और इसके बाद महिला को साठ हजार रूपए में बेंच दिया। एक साल दो माह बाद चंगुल से छूटी करीब पांच माह की गर्भवती महिला अपने घर पहुंची। तब से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए महिला भटक रही है। मंगलवार को तहसील दिवस में जब महिला का प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं किया गया तो महिला रो पडी।

कन्नौज के इन्दरगढ़ थाना क्षेत्र के निकारीपुरवा की रहने वाली करूना पत्नी अजब सिंह ने बताया कि उसको 06.11.2015 की रात्रि गांव के ही रहने वाले विमल कुमार, राकेश कुमार व अशोक कुमार जबरदस्ती असलहों की दम पर अपहरण कर उठा ले गये और नोएड फेज-2 लेजाकर एक कमरे में बन्धक बनाकर बारी-बारी से बलात्कार करते रहे जिसके बाद जब इन लोगों की मुझसे इच्छा भर गयी तो इन लोगों ने मुझे 60 हजार रूपये में कन्नौज लाकर सौरिख के समाधान नगला निवासी विवेक के हांथो बेंच दिया।

जिसके बाद विवेक ने भी उसकी बिना मर्जी के उसके साथ बलात्कार किया और अपने घर पर जबरन कैद में रखकर जबरन बलात्कार करता रहा और प्रार्थिनी से जबरन जान से मारने की धमकी देकर सादे कागजात पर हस्ताक्षर ले लिये जिसके बाद दिनांक 23.03.2017 को करूना ने मौका देखकर भागकर अपनी जान बचाई और अपनी आप बीती अपने पति अजब सिंह को बताई जिसके बाद महिला ने पुलिस से कार्यवाही की मांग की लेकिन स्थानीय पुलिस ने महिला की मदद नही की।

जिससे महिला ने पुलिस अधीक्षक कन्नौज से गुहार लगाई जिसपर 25.05.2017 को मुकदमा दर्ज कर लिया गया लेकिन अभी तक किसी की भी पुलिस ने गिरफ्तारी नही की और महिला इस बलात्कार के मामले में गर्भवती भी हो गयी। महिला के पेट में 6 माह का बच्चा है। जिससे महिला पुनः तहसील दिवस में न्याय मांगने पहुंची जहाॅ पुलिस अधीक्षक ने प्रार्थनापत्र लेकर महिला के पूरे प्रकरण की जाॅच करते हुए आश्वासन दिया है। एसपी का यह भी कहना है कि सभी साक्ष्यों की जाॅच की जायेगी जैसा कि महिला ने प्रार्थनापत्र दिया है तथ्यों के आधार पर कार्यवाही की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here