तमाम प्रयासों के बाद भी महिलाएं असुरक्षित

0
36

प्रतीकात्मक फोटो

बीघापुर/उन्नाव ब्यूरो : सरकार के बहुत से प्रयास और देश के तमाम कानून भी महिलाओं को सुरक्षा देने में नाकाम साबित हो रहे हैं। दिन पर दिन छेड़छाड़ व अनाचार, दुराचार की घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं।

ऐसा ही छेड़छाड़ का एक ममला नगर पंचायत बीघापुर के वार्ड नं0 1 गाँधी नगर की रहने वाली 16 वर्शीय षालिनी पुत्री स्व0 सुरेष चन्द्र कुरील ने स्थानीय थाने में दर्ज कराया है।जिसमें दी गई तहरीर के माध्यम से कहा है कि वह 6 जून 2017 को सुबह लगभग 9ः30 बजे जंगल से लकड़ियाँ ले कर घर वापस आ रही थी,रास्ते में मोनू के मुर्गी फार्म में लगे नल में पानी पीने लगी,वहीं मोनू के मुर्गी फार्म में काम करने वाला आषा राम पुत्र पुत्ती लाल निवासी वार्ड नं. 6 संदोही नगर, नगर पंचायत बीघापुर ने शालिनी से फार्म के अन्दर से मोबाइल लाने की बात कही, जैसे ही वह मोबाइल लेने अन्दर गई आशाराम ने अचानक दरवाजा बन्द करके शालिीन को गलत नियत से दबोच लिया।

शालिनी का कहना है कि इस पर मैंने विरोध करते हुए चिल्लाई तो षोर सुनकर आस पास के लोग दौड़ कर मुझे बचाया।इस बात की षिकायत पीड़िता यू0पी0 100 पुलिस को की, जब पुलिस मौके पर पहुंची तो उक्त आषाराम मौके से चकमा देकर भाग गया। प्रभारी निरीक्षक बीघापुर ने इस मामले में पीड़िता की तहरीर पर आरोपी आषाराम को गिरफ्तार कर उस पर भा0द0सं0 की धारा 354(ए),लैंगिक अपराधों में बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012,की धारा 7,8 के तहत मामला दर्ज कर कार्यवाही करते हुए उपनिरीक्षक प्रषान्त सिंह भदौरिया को जांच के निर्देष दिए हैं।

रिपोर्ट – मनोज सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here