महिला चिकित्सालय द्वारा 100 दिनों में कराए गए कार्य

0
49

बदायूँ (ब्यूरो) वर्तमान सरकार द्वारा 100 दिनों में मुख्य चिकित्सालय द्वारा परिवार विकास मिशन के अन्तर्गत दी जाने वाली सुविधाएं हौसला ट्रेनिंग सेन्टर पर प्रत्येक माह की 08 तारीख से 21 के मध्य नसबन्दी कराने पर आशा को 100 रुपए प्रति केस की दर से तथा सर्जन को 200 रुपए प्रति केस की दर से से सिफ्सा द्वारा अतिरिक्त भुगतान किया जाएगा। भुगतान हेतु बैंक पासबुक की कॉपी हौसला ट्रेनिंग सेन्टर पर लाना सुनिश्चित करें। आशा प्रेरक को 300 रुपए प्रति केस तथा प्रसव के तुरन्त बाद नसबन्दी कराने पर 400 रुपए प्रति केस की दर से भुगतान किया जाएगा।

लाभार्थी को दूरवीन विधि द्वारा नसबन्दी कराने पर धनराशि के रूप में 200 प्रति तथा प्रसव के तुरन्त बाद या 48 घन्टे से अन्दर नसबन्दी कराने पर 3000 प्रति क्षतिपूर्ति धनराशि के रूप में दिया जाएगा। धनराशि पूर्व में निर्धारित धनराशि के सापेक्ष रुपए 600 (दूरबीन विधि द्वारा से) तथा 800 (प्रसवोपरान्त मिनीलैप विधि) में अधिक दी जा रही है। प्रसवोपरान्त पी.पी.आई.यू.सी.डी. लगवाने पर आशा प्रेरक को 150 तथा लाभार्थी के दो फालो-अप कराने पर 300 रुपए की धनराशि दी जाएगी।

जिला महिला चिकित्सालय में त्रैमासिक गर्भनिरोधक इन्जेक्शन (अन्तरा) गत एक अगस्त से प्रारम्भ हो गया है, जिसमें आशा को 100 रुपए लाभार्थी को 100 रुपए का प्रावधान है तथा सप्ताह में खाने वाली गोली भी उपलब्ध है। चिकित्सालय में 100 बैडेड एम.सी.एच. बिंग में वायो के मिस्ट्रीलैब स्थापित हैं। जिसके अन्तर्गत निम्न जांचे सी.बी.सी., ब्लड ग्रुप, एच.बी प्रतिशत ग्लूकोज (रैन्डम) यूरिया सिरम किएटिनिन, यूरिया एसिड टी.बिलीरूबीन, डी.विल, एस.जी.ओ.टी., एस.जी.पी.टी., कोलेस्ट्राल, ट्राइगिलसराइड, सीरम इमाइलेज,एचआईबी, बीडीआरएल, यूरिन, एलबूमिन, यूरिन, शुगर, प्रेगनेन्सी टेस्ट, मलेरिया टेस्ट, थाइफारथ टेस्ट उपलब्ध है।

रिपोर्ट – सोनू यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here