बच्चों में निमोनिया से बचाव के लिए रामबाण का काम करती है पीसीवी- डा०निर्मल सिंह

0
116

बहराइच(ब्यूरो)- उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले के टिकोरा मोड़ स्थित लेजर रिसार्ट में यूनिसेफ़ की ओर एक मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें बहराइच, बलरामपुर और श्रावस्ती के सीएमओ शामिल हुए। यूपी के 6 जिलों में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में न्यूमोकोकल कान्जुगेट वैकसीन(पीसीवी) शामिल की जा रही है। न्यूमोकोकल बैक्टीरिया से होने वाले निमोनिया और अन्य बीमारियों से बचाव के लिए यह टीका पूरी तरह कारगार है। 10 जून को पांच साल से कम उम्र के बच्चों को निमोनिया से बचाने के लिए पीसीवी को पहले चरण मे यूपी के 6 चुने हुए जनपदो में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल किया गया है।

मुफ्त में लगायी जायेगी पीसीवी-
आयोजित कार्यशाला में बताया गया कि राज्य सरकार बच्चों को जानलेवा बीमारियों से बचाने के प्रतिबद्ध है। सरकार इस टीके को सभी बच्चों के लिए मुफ्त मे उपलब्ध करा रही है। देश में पहले यह टीका केवल प्राइवेट तौर पर ही उपलब्ध था।

डा० निर्मल सिंह, यूनिसेफ ने बताया कि-पीसीवी बच्चों को न्यूमोकोकल बैक्टीरिया से होने वाले न्यूमोनिया और दिमागी बुखार एंव अन्य बीमारियों से बचाता है। विश्व में पांच साल से कम उम्र के बच्चों की मृत्यु का प्रमुख कारणों मे से एक भी निमोनिया है। 2010 के आकडों के अनुसार विश्व में पांच साल से कम उम्र के बच्चों की निमोनिया सम्बंधित लगभग 20 प्रतिशत मृत्यु भारत में होती है| डा० सिंह ने बताया मीडिया को बताया कि पीसीवी प्रदेश में इस बीमारी के बोझ को कम करेगी। डा० सिंह ने बताया कि यूपी के 6 जिलों बलरामपुर, बहराइच, खीरी, सीतापुर सिद्धार्थ नगर और श्रावस्ती में टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल की जा रही है।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए बहराइच जिले सीएमओ डा० अरूण लाल ने बताया कि अब 6 जनपदों के बच्चों को नियमित टीकाकरण में पीसीवी भी लगेगा, दो प्राइमरी टीके क्रमश: 6 हफ्ते, 14 हफ्ते की उम्र पर बूस्टर टीका 9 महीने की उम्र पर दिया जायेगा।

मीडिया कार्यशाला में बोलते हुए मीडिया कान्सलटेंट प्रीति एम साह ने मीडिया से बैक्सीन के बेहतर प्रचार प्रसार और सकारात्मक खबर देने के लिए मीडिया का सहयोग मांगा।

इस मीडिया कार्यशाला में डा० आरती सिंह एसआरटीएल- विश्व स्वास्थ्य संगठन , डा० अजीत चंद्रा, जिला.टीकाकरण अधिकारी-बहराइच, सरकारी विभागों के अधिकारी, यूनिसेफ़, रोटरी व अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित रहे है।

रिपोर्ट- राकेश मौर्य

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY