दुनिया में पहली बार भारत ने कर दिखाया कारनामा, भारत के डाक्टरों ने विकसित कर दिया कुष्ठ रोग का टीका

0
7735

leprosy

दिल्ली- भारत के डाक्टरों ने विश्व में पहली बार ला इलाज बिमारी मानी जाने वाली कुष्ठ रोग का टीका विकसित कर दिया है | अब इस टीके के लगने के बाद पूरी दुनिया से धीरे धीरे कुष्ठ रोग को आसानी से मिटाया जा सकेगा | भारत सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि इस टीके को जल्द ही कुष्ठ रोग से सर्वाधिक प्रभावित बिहार और गुजरात के कुछ जिलों में उपलब्ध करवा दिया जाएगा |

बता दें कि भारत में प्रतिवर्ष तक़रीबन 1.25 लाख लोग कुष्ठ रोग से प्रभावित हो जाते है और इतना ही नहीं दुनिया भर के कुष्ठ रोग से प्रभावित कुल मरीजों में से 60% अकेले भारत वर्ष में ही पाए जाते है | बताया जा रहा है कि इस रोग से पीड़ित ज्यादातर लोग समय रहते बीमारी का पता न चलने और इलाज न हो पाने के कारण अपांग हो जाते है | रिपोर्ट में कहा गया है कि इस टीके को एक प्रायोगिक तौर पर उपलब्ध कराया जा रहा है अगर रिजल्ट सभी पॉजिटिव आते है तो इसे अन्य जिलों में भी उपलब्ध करवा दिया जाएगा |

इंडियन काउंसिल ऑफ़ मेडिकल रिसर्च की निदेशक डाक्टर सौम्या स्वामीनाथन ने कहा है कि, ‘ दुनिया कुष्ठ रोग का यह पहला टीका है और भारत वह पहला देश है जहां पर कुष्ठ रोग को लेकर टीकाकरण चलाया जा रहा है | डाक्टर सौम्या स्वामीनाथन ने कहा है कि अगर इसे उन लोगों को दिया जाय जो लोग कुष्ठ रोगियों के संपर्क में रहते है तो मात्र 3 सालों के भीतर ही कुष्ठ रोगियों के मामले में 60 फीसदी की कमी बहुत आसानी से लायी जा सकती है | उन्होंने यह भी कहा है कि अगर कुष्ठ रोग के कारण किसी की त्वचा जख्मी हो गयी है तो यह टीका उसके ठीक होने की रफ़्तार को बेहद तेज कर देगा और जल्द से जल्द उस ब्यक्ति को आराम मिल जाएगा |

बताते चले कि इस टीके को नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ इम्युनोलॉजी के संस्थापक व निदेशक डाक्टर जीपी तलवार ने विकसित किया है | भारत के ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इंडिया (DCGI) और अमेरिका की FDA ने इसे अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here