विदेशों में योग का फहराया परचम, अपने जन्मभूमि के लोगों को कर रहे जागरूक

0
84

समस्तीपुर (ब्यूरो)- अनुमंडल क्षेत्र के मूसेपुर निवासी विन्देश्वर पासवान के पुत्र नंदकिशोर भारती वियतनाम के हनोई में योग प्रशिक्षक के रूप में योग का परचम फहरा रहे हैं| मोरारजी देसाई योग संस्थान दिल्ली से योग विज्ञान में प्रथम श्रेणी से डिप्लोमा प्राप्त करने के बाद भारती केन्द्रीय कारा तिहाड़ में सेवारत रहे| रोसड़ा को योग के क्षेत्र में विश्व के मानचित्र पर लाने हेतु प्रयासरत हैं| इसी मिशन को गति देने के उद्देश्य से वो इस बार अपने जन्मभूमि पहुंचे है| जगह-जगह योग शिविर लगाकर लोगों को योग के गुणों से अवगत करा रहे है|

इसी क्रम में सुन्दरी देवी सरस्वती विद्या मंदिर बटहा में योग शिविर का उदघाटन करते हुए योग प्रशिक्षक नंदकिशोर भारती ने कहा कि योग को अपनाकर शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य आसानी से प्राप्त किया जा सकता है जो जीवन में सफलता हेतु परमावश्यक है|

शिविर में उन्होंने बहुत ही सरल तरीका से उपस्थित छात्र-छात्राओं एवं आचार्यो को विभिन्न आसन सुखासन पदमासन सर्वांगासन मत्स्येन्द्रासन प्राणायाम कपालभाति भ्रामरी उदगीत आदि का अभ्यास कराया|

संचालन विजयव्रत कंठ एवं धन्यवाद ज्ञापन कैलाश पोदार ने किया. योग प्रशिक्षक नंदकिशोर भारती को शैलेन्द्र मिश्र एवं श्रीमती रंजना ने शाल डायरी कलम एवं पुष्पगुच्छ प्रदान कर सम्मानित किया|

इस अवसर पर रामबाबू दास, शंभु कुमार, तरुण कुमार, घनश्याम मिश्र, संजय दास, दिलीप कुमार, घनश्याम राय सहित कई शिक्षकों ने सक्रिय भूमिका निभाई|

रिपोर्ट-रंजीत कुमार 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here