योगी ने अधिकारियों से भी मांगा संपत्ति का ब्यौरा, दिलाई शपथ

0
89


लखनऊ : वाराणसी न खाऊंगा और न खाने दूंगा की राह पर चलते हुये मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ ने मंत्रियों के बाद अधिकारियों से भी अपनी आय और चल-अचल संपत्ति का ब्यौरा सर्वजनिक करने को कहा है। अधिकारियों को भी इसके लिये 15 दिन का समय दिया गया हैं। उन्होंने अधिकारियों को शपथ दिलायी और कहा कि भ्रष्‍टाचार बड़ी समस्या है,

वह चाहेंगे कि उनके सहयोगी मंत्री और अधिकारी शपथ के अनुरूप कार्य करें,वह खुद भी इसी रास्ते पर चलेंगे। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही मंत्रियों के साथ पहली बैठक में ही रविवार को योगी ने अपने सहयोगियों को 15 दिन के भीतर आय और चल अचल संपत्ति का ब्यौरा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था।
सोमवार को मुख्यमंत्री ने लोकभवन में शासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की और कहां कि भाजपा के चुनावी संकल्प पत्र के वादों को लागू करने की योजना जल्द से जल्द बनायी जाये।

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि यह उत्तर प्रदेश सरकार के अधिकारियों के साथ परिचय बैठक थी।
अधिकारियों से कहा गया है कि संकल्प पत्र को लागू करना है। बैठक में प्रमुख सचिव और सचिव स्तर के लगभग 65 वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। अधिकारियों को भाजपा के संकल्प पत्र की प्रतियां दी गईं और निर्देश भी कि वे अपने अपने विभागों का रोडमैप बनाएं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि अपराधियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई कर जनता के लिये सम्मानपूर्ण जीवन जीने का माहौल बनाया जाये। उन्होंने भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेन्स की नीति अपनाने का निर्देश देते हुये कहा कि संवेदनशील और ईमानदार अधिकारियों व कर्मचारियों की तैनाती की जाए। पक्षपात रहित काम करने का निर्देश देते हुए कई बातें बताई ।

रिपोर्ट–रवींद्रनाथ सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY