योगी सरकार में भी नहीं थम रहा भू और जल माफियाओं का आतंक

0
63

उन्नाव(ब्यूरो)- देश के प्रधानमंत्री से लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जोकि पतित पावनी माँ गंगा को प्रदूषण से मुक्ति दिलाने और भू-माफियाओ से सार्वजनिक भूमि को खाली कराने जैसे महाभियान में दिन रात एक किये जा रही हैं, वही दूसरी ओर इन दोनों महाभियानो की पूरी तरह से माफिया लोग धज्जियां उड़ाते हुए नजर आ रहे है|

आपको बताते चलें कि एक ओर जहाँ देश की नामचीन हस्तियों और नेताओ से लेकर अभिनेताओं तक पतित पावनी माँ गंगा के जल को निर्मल करने के लिए समय समय पर बड़ी-बड़ी बाते करते आते रहते है लेकिन इन सभी लोगो को बताना चाहता हूँ कि केवल फ़ोटो खिंचवाने व टीवी चैनलों पर चलने से काम नहीं चलने वाला, धरातल पर असलियत कुछ और ही बया करती हैं।

वर्षा के मौसम का एक महीना बीत जाने के बाद भी अभी तक कहीं वर्षा होनेँ के लक्षण दूर दूर तक कहीं नजर नहीं आ रहे हैं। पिछले तीन चार वर्षों से भी लगातार कम बारिश होने के कारण घातक स्थिति बनती चली आ रही है । जिससे पानी का संकट बढ़ता जा रहा है और नदी तालाब पोखर आदि सूख गए हैं क्षेत्र की प्रमुख तालाब जो पूरी तरह से सुख चुके थे लेकिन इधर दो चार दिन से बारिश होने के कारण तालाब तो भरते नजर आ रहे है लेकिन इसका असर जल माफिया व भू-माफियाओ पर पड़ने वाला नही बल्कि इन काले कारनामो के चलते पूरी तरीके से खेती कराई जा रही है।

आपको यह भी बता दें कि इस समय जल माफियाओ के काले कारनामे से पतित पावनी माँ गंगा के जल में सिघाड़े की खेती कर उसमें प्रदूषण खोल कर जहरीला बनाया जा रहा है। खेती वह भी ऐसी जगह हो रही हैं, जहाँ पर क्षेत्र के अलावा सैकड़ो किलोमीटर दूर दराज के लोग भी अंतिम संस्कार करने आते है जल से आचमनं के स्नान भी करते है|

रिपोर्ट- रामजी गुप्ता 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY