यह कैसी सरकार है भाई ? गायों को मिल रही एम्बूलेंस सुविधा, मनुष्य तड़प रहे सड़क पर

0
201

हसनगंज/उन्नाव (ब्यूरो)- स्कूटी सवार युवकों को टैक्सी ने मारी टक्कर, चालक व सवार गंभीर रूप से घायल, एम्बुलेंस न मिलने से घायल घंटो CHC पर ही तड़पते रहे घायल बाद में परिजन प्राइवेट वाहन से ट्रामा सेंटर ले गए|

प्राप्त जानकारी के आधार पर हसनगंज कोतवाली क्षेत्र लखनऊ बांगरमऊ ऱोड पर एक अज्ञात टेम्पो ने डाला को ओवर टेक करने के चक्कर में स्कूटी सवार दो युवकों को टक्कर मार दी जिससे दोनों सवार गंभीर रूप से घायल हो गए है और तो और घायलों को एम्बुलेंस तक नही मोहैया हो पाई |

जानकारी के मुताबिक कोतवाली हसनगंज के ग्राम मरहा निवासी अर्जुन पुत्र रामबिलास 26 वर्ष लखनऊ के थाना क्षेत्र बदबदा खेड़ा अपनी बुआ के घर गया था, जहां से आज सुबह वह अपने बुआ के लड़के कुलदीप पुत्र भीखा 21 वर्ष निवासी बदबदा खेड़ा लखनऊ के साथ अपने घर मरहा आ रहा था| अभी वो लखनऊ बांगरमऊ रोड पर स्थित कस्बा महाराजगंज को ही पार किया था कि तभी रोड के किनारे पेशाब करने के लिए गाडी रोकी ही थी तब तक पीछे से आ रहे टेम्पो ने एक डाले को ओवरटेक करने के चक्कर में में स्कूटी में पीछे से टक्कर मार दी जिससे दोनों युवक गंभीर रूप से घायल हो गए|

राहगीरों ने 100 न0 डायल कर पुलिस को सूचना की और एम्बुलेंस को भी सूचित किया लेकिन मौके पर एम्बुलेंस न पहुचने के कारण घायलों को अन्य वाहन से CHC हसनगंज लाया गया जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार कर अर्जुन की हालत नाजुक होने के कारण ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया| लेकिन अस्पताल में सरकार की जन कल्याणकारी एम्बुलेंस सुविधा ने यहां भी धोखा दे दिया, एम्बुलेंस के इन्तजार में घायल घंटे भर से ज्यादा समय तक CHC पर पड़ा तड़पता रहा और कोई एम्बुलेंस न मिल सकी |

परिजन 108 डायल कर रहे थे जिस पर बताया गया कि गाडी अभी खाली नही है| बार-बार डायल करने पर तो परिजनों को 108 की तरफ से डांट भी पड़ गई की एक बार बता दो दिया की गाड़ी खाली नही है| बार बार फोन न करो जिससे मायुश होकर मजबूरी वश निजी वाहन से घायल को लखनऊ ट्रामा सेंटर ले गए| स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डा0नितिन श्ररीवास्तव ने बताया कि 108 व् 102 एम्बुलेंस सुविधा हमारे नियंत्रण में नही है, इनकी रिपोटिंग लखनऊ से होती है।

वहीं 108 के EMT धीरज कुमार ने बताया कि की हसनगंज की 108 गाड़ी संख्या up 41जी 1109 आज सुबह 10:55 पर बिगड़ने के कारण ऑफ रोड हो गई है। जब की घायल अस्पताल परिसर में 10:35 आ चुका था तब गाडी ऑन रोड थी फिर भी घायल को सुविधा मुहैया नही हो सकी ।

रिपोर्ट- राहुल राठौर

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY