फुल फॉर्म में दिखी योगी सरकार, एक ही दिन में कर दिए 100 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को सस्पेंड

0
178

लखनऊ- उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को दुरुस्त बनाने के लिए तथा पुलिस के रवैये में सुधार करने के लिए प्रतिबद्ध योगी आदित्यनाथ का मानना है कि सूबे के किसी भी थाने में कोई भी शिकायतकर्ता बिना किसी भय के अपनी बात कह सके तथा पुलिस द्वारा उसको पूरा सम्मान दिया जाए ऐसी व्यवस्था की जानी चाहिए। आपको बता दें कि आज लखनऊ में प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ सुबह-सुबह शहर की हज़रतगंज कोतवाली का औचक निरीक्षण किया। जहां पर उन्होंने कोतवाली में मौजूद अधिकारियों से बातचीत की तथा कामकाज का जायजा भी लिया।

100 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को किया गया सस्पेंड-
सूबे में कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त बनाने के लिए योगी सरकार ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। फुल फॉर्म में चल रही योगी सरकार ने एक ही दिन में 100 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। सूत्रों के हवाले से प्राप्त ख़बर के आधार पर बताया जा रहा है कि सबसे ज्यादा पुलिसकर्मी गाजियाबाद, मेरठ और नोएडा में सस्पेंड किए गए हैं। बताया यह भी जा रहा है कि लखनऊ में सात इंस्पेक्टर को सस्पेंड किया गया है। हालाँकि सस्पेंड किए गए ज्यादातर पुलिस कर्मियों में कांस्टेबल हैं। पुलिसकर्मियों के ऊपर हुई यह कार्यवाही प्रदेश के डीजीपी जावेद अहमद के निर्देश पर की गई है।

बिना किसी डर के जनता कह सके अपनी बात-
सूबे के मुख्यमंत्री का मानना है कि प्रदेश के किसी भी थाने में कोई भी व्यक्ति बिना किसी भय के किसी भी पुलिस अधिकारी से मिल सके तथा वह उनसे अपनी बात बिना किसी डर के कह सके। पीड़ित व्यक्ति की तत्काल FIR लिखी जानी चाहिए तथा थाना प्रभारी द्वारा मामले पर तत्काल कानूनी कार्यवाही भी सुनिश्चित की जानी चाहिए। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार की सुबह हजरतगंज कोतवाली का औचक निरीक्षण करने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए यह कहा।

उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा उनके थाने में आए हुए फरियादी को उचित सम्मान दिया जाना चाहिए तथा आवश्यकता पड़ने पर यदि शिकायतकर्ता के पास कलम और कागज उपलब्ध नहीं है तो अधिकारियों द्वारा उन्हें वह भी उपलब्ध करवाया जाना चाहिए।

महिला पुलिस कर्मियों के लिए होनी चाहिए पर्याप्त सुविधाएं-
मुख्यमंत्री ने आज गुरुवार कोतवाली का निरीक्षण करने के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए कहा है कि महिला पुलिस कर्मियों के लिए पर्याप्त आवास की व्यवस्था की जानी चाहिए साथ ही महिलाकर्मियों तथा थानों में आने वाली महिला शिकायतकर्ताओं के लिए थाने के भीतर प्रथक प्रसाधन की व्यवस्था की जानी चाहिए साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि थाने में यदि कोई भी व्यक्ति शिकायत करने के लिए आता है तो उसके बैठने तथा पीने के लिए पानी की भी उचित व्यवस्था होनी चाहिए।

महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है योगी सरकार
योगी आदित्यनाथ ने आज पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि निरीक्षण तो मात्र एक शुरूआत है अब पुलिस विभाग में निश्चित रूप से बदलाव दिखेगा। उन्होंने कहा कि हजरतगंज कोतवाली होने के साथ-साथ इस परिसर में पुलिस अधीक्षक, पुलिस उपाधीक्षक तथा महिला थाना, साइबर सेल स्थापित हैं इसीलिए इस कोतवाली का निरीक्षण करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार प्रदेश के सभी नागरिकों खासकर महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here