यूपी 100 ने किये सराहनीय कार्य

0
88
प्रतीकात्मक फोटो

बलिया (ब्यूरो)- यूपी-100 की मंशा सभी को पता है, डायल करते ही पुलिस मौके पर पहुंचती भी है, लेकिन नरही क्षेत्र में शुक्रवार की शाम डायल-100 बेमतलब का साबित होती दिखी। लेकिन आमजन की तत्परता से युवती की सुरक्षा हो सकीं।

दरअसल आपको बता दें कि हुआ यूं कि शुक्रवार की शाम एक युवती अमाव मोड़ पर नेशनल हाईवे के किनारे बैठी दिखी। उसके बात विचार से यह प्रतीत हो रहा था कि वह मानसिक रूप से पूर्ण स्वस्थ नहीं है। इसकी सूचना डायल-100 पर दी गयी, ताकि समय रहते पुलिस सार्थक पहल कर सकें। लेकिन सूचना के आधा घंटे बाद तक कोई मौके पर नहीं पहुंचा। फिर इसकी सूचना पुलिस अधीक्षक को दी गयी। एसपी ने नरही प्रभारी परमानन्द द्विवेदी को आदेशित किया।

प्रभारी ने त्वरित कार्यवाही करते हुए भरौली पिकेट पर तैनात सिपाही समीउल्लाह खान को घटना स्थल पर भेजा। घटनास्थल पर पहुंचे सिपाही ने युवती से पूछताछ शुरू किया। इसी बीच, डायल-100 के सिपाही भी पहुंच गये। मामला लड़की का था, लेकिन महिला कास्टेबल नहीं थी। इसको देखते हुए गोबिंदपुर की आशाबहू से पुलिस ने मदद लिया। आशाबहू उस लड़की के साथ नरही थाने गयी। युवती के आंख के अलावा कई जगह जख्म के निशान थे। कयास लगाये जा रहे थे कि युवती के साथ मारपीट की गई है। युवती अपना नाम पता नहीं बता पा रही थी।

थानाध्यक्ष परमानंद द्विवेदी ने बताया कि शनिवार को युवती को न्यायालय ले जाया गया, जहां से दिशा-निर्देश मिलने के बाद उचित कार्यवाही की जायेगी।

रिपोर्ट -संतोष कुमार शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here