दिन दहाड़े बीच सड़क से अगवा हुई युवती, पुलिस का रवैया सवालिया

0
199


प्रतापगढ़ ब्यूरो : जनपद प्रतापगढ़ की अभी तक की दो बड़ी घटना प्रतापगढ़ लालगंज कोतवाली इलाके के शुक्ला के पुरवा गांव निवासी दिनेश चंद्र शुक्ला उम्र 40 वर्ष को जमीनी विवाद में गोली मारकर मौत के घाट सुला दिया वहीँ जनपद प्रतापगढ़ के कोतवाली मानधाता क्षेत्र के गजेहडा जंगल पुल के पास एक महिला उसके साथ एक युवती रोड पर खड़ी होकर साधन का इंतजार कर रही थी कि इतने में इलाहाबाद की तरफ से एक बोलेरो गाड़ी आती दिखाई पड़ी उन्होंने ज्यों ही गाड़ी को हाथ दिया गाड़ी ड्राइवर ने रोकी और जैसे ही युवती गाड़ी के अंदर बैठी इतने में बोलेरो चालक गाड़ी को लेकर भाग निकला |

युवती के साथ खाड़ी महिला वहीँ सड़क पर जोर-जोर से चिल्लाने लगी पीछे से इलाहाबाद की तरफ से आ रहे पल्सर सवार अबू साद निवासी चकिया इलाहाबाद एवं उसका साथी मो. सैफ निवासी नवाबगंज थाना इलाहाबाद बोलेरो का पीछा किया | प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो बोलेरो गाड़ी १०० किमी प्रतिघंटा की स्पीड से चल रही थी |

जैसे ही बोलेरो पनियारी गाँव पुल के पास पहुंची, पल्सर सवार दोनों युवक अपना संतुलन खो बैठे और उनका एक्सीडेंट हो गया, लोगों ने 100 नंबर पीआरवी को फोन किया पर आधे घंटे तक डायल 100 सेवा घटनास्थल पर नहीं पहुंची, इसके बाद लोगों ने कोतवाल मानधाता को फोन किया तो उन्होंने पनियारी घटनास्थल पर लगभग पौना घंटा बाद पहुंचकर उल्टा दोनों युवकों पर ही पुलिसिया रौब झाड़ना शुरु कर दिया और अपने साथ एक युवक को लेकर गजेहडा जंगल घटनास्थल रवाना हो गए, जहां एक तरफ पुलिस प्रमुख का यह निर्देश है कि पुलिस आम जनता के साथ मधुर संबंध स्थापित करें और अच्छे व्यवहार करें वहीं दूसरी तरफ कोतवाल मानधाता का यह व्यवहार उपस्थित जनसमूह को ग्रामीण जनता जनार्दन को रास नहीं आ रहा है |

रिपोर्ट : अवनीश कुमार मिश्रा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY