देखिये आज की अधिकांश युवा पीढ़ी किस तरह दुखाती है मां बाप का दिल

0
101

पुरवा/उन्नाव (ब्यूरो) इस समय देखा जाय तो थानो व कोतवालियों में सबसे अधिक प्रेम प्रसंग के दर्ज होते देखे जा रहे हैं | क्या कारण क्या यही अच्छे दिन हैं ? आज की युवा पीढी उन माता पिता को धता बताकर एसे फुर्र हो जाते है और मात-पिता के दिलो को ठेस पहुचाते है जिन्होने बेटो और वेटियों को जन्म दिया यही नही वह माता जिसने बच्चो को9माह पेट में रखकर कितने कस्ट सहे होगें और उन्ही बच्चों को पाल पोस कर बडा करते है और उन्हे अच्छी से अच्छी शिच्क्षा दिलाने का भरसक प्रयास करते है और वही बच्चे अपने माता पिता को प्रेम प्रसगं का पाठ पढाते है कमी उन बच्चो ने सोचा कि क्या बीतती होगी उन माता पिता पर क्या स्कूल कालेज जाकर यही संस्कार सीखते है बच्चे वही एक पीडित पिता ने कोतवाली मे शिकायती पत्र देते हुए अपनी पीणा ब्यकत की जहां कोतवाली पुलिस ने पीणित के शिकायती पत्र पर बहला फुसलाकर भगा लेजाने का अभियोग दर्ज कर प्रेमी व प्रेमिका की तलास सुरू कर दी है।

प्राप्त विवरण के अनुसार मामला कोतवाली क्षेत्र के गांव गदोरवा का हैजहां पीणित(नन्दलाल पुत्र दाता राम दोनो ही बदले हुए नाम् काल्पनिक)ने बताया कि बृहस्पतिवार की रात्रि लग भग 10 बजे हम सहपरिवार खाना पीना करके मकान की छत पर सो गये थे साथ पुत्री कु0नैना बदला हुआ नाम भी सो रही थी जब देर रात मेरी नीदं खुली तो देखा कि पुत्री नैना छत पर नही है जिसपर परिवार चिन्तित होकर सभी ने इधर उधर तलास करना सुरू की पर कही पता नही चला तभी मेरे चाचा के लडके रामप्रसाद पुत्र बुधई ने बताया कि तुम्हारी पुत्री नैना को अजयपाल पुत्र लालू नि० ग्राम नयाखेडा थाना अचलगंज उन्नाव अपने साथ बहला फुसलाकर भगा लेगया जिसको जाते समय मैने देखा है वही पीणित ने बताया कि जाते समय मेरी पुत्री मेरी गाढी कमाई का बकसे मे रखा 50 हजार की नगदी व मेरी पतनी के बकसे मे रखी सोने की झुमकी,जंजीर,तथा दो अंगूठी सोने की भी उठा लेगयी जहां पीणित के शिकायती पत्र पर कोतवाली पुलिस ने धारा 363/366 काअभियोग र्दज कर लिया है क्हीअगर देखा जाय तो इस तरह आज की अधिकाशं युवा पीढी किस कदर प्रेम प्रसगं के चक्कर मे पङ कर मात पिता के दिलो को दुरव पहुचा रहे है।।

रिपोर्ट – मो. अहमद चुनई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here