त्रिकोणीय मुकाबले में फंसे किशोर नहीं कर पाए मतदान

0
162

voter
देहरादून : उत्तराखंड में बुधवार को मतदान के दिन सभी प्रत्याशियों ने अपने अपने मत का प्रयोग किया, और मतदान  के बाद अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की, वही सहसपुर में त्रिकोणीय मुकाबले में फंसे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय अपना ही वोट नहीं डाल पाए। दरअसल किशोर उपाध्याय का वोट टिहरी में है, जबकि वोटिंग के दिन किशोर उपाध्याय सहसपुर में ही उलझे  रह गए। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय आखिरी मौके पर सहसपुर सीट से पार्टी प्रत्याशी बने इस दौरान उनका विरोध भी हुआ।

पार्टी मुख्यालय में तीन दिन तक हुआ हंगामा

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी मुख्यालय में तीन दिन तक हंगामा और तोड़फोड़ का दौर चला। उनके सहसपुर से प्रत्याशी बनने के बाद हुई बगावत में आर्येंद्र शर्मा उनके खिलाफ चुनाव मैदान में उतर आए। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय टिकट मिलने से पहले ऋषिकेश, टिहरी के साथ ही नरेंद्रनगर से भी दावेदारी कर रहे थे। इसी उलझन में उनका राजनीतिक पलायन टिहरी से सहसपुर तो हो गया, लेकिन वह अपना वोट सहसपुर नहीं ट्रांसफर करवा पाए।

प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय नहीं दे पाए वोट

फिर सहसपुर में वह मुकाबले में ऐसे फंसे कि पार्टी अध्यक्ष होने के बावजूद दूसरे पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार के लिए भी नहीं निकल पाए। बुधवार को वोटिंग के दिन तो यह स्थिति आ गई कि वह वोट देने टिहरी नहीं जा पाए। जबकि टिकट मिलते वक्त पार्टी पदाधिकारी तीन दिन तक कांग्रेस भवन में उन्हें वापस टिहरी ले जाने के लिए धरने पर बैठे रहे।कांग्रेस प्रदेश सचिव विनोद चौहान का कहना है कि प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय की चुनाव के दिन ज्यादा व्यस्तता रही, जिससे वह टिहरी नहीं जा पाए। वैसे भी सड़क से टिहरी जाकर वोट करना और उसी दिन वापस सहसपुर में मतदान बूथों का निरीक्षण करना संभव नहीं था। इसलिए वह अपना बहुमूल्य वोट करने नहीं जा पाए।

<span style=”color: #ff6600;”><strong>हिंदी समाचार-</strong> से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा</span> <span style=”color: #000080;”><strong><a style=”color: #000080;” href=”https://www.facebook.com/akhandbharatnws.ind/”>फेसबुक पेज</a></strong></span> <span style=”color: #ff6600;”>और आप हमें</span> <span style=”color: #000080;”><strong><a style=”color: #000080;” href=”https://twitter.com/akhand_ind”>ट्विटर</a></strong></span> <span style=”color: #ff6600;”>पर भी फॉलो कर सकते हैं |</span>

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here